Rose Day Shayari

Rose day shayari

“जिसे पाया ना जासाके वो जनाब हो तुम, मेरी जिंदगी का पहला ख्वाब हो तुम, लॉग चाहे कुछ भी कहे लेकिन मेरी जीन्दगी का एक सुंदर सा गुलाब हो तुम ।हैप्पी रोज डे ।
“होंठों से प्यार के फ़साने नहीं आते साहिल पे समंदर के मोती नहीं आते ले लो अभी ज़िंदगी में दोस्ती का मज़ा फिर लौट के हम जैसे दीवाने नहीं आते!हैप्पी रोज डे ।
“तुज़े जो छह दिल से है, मगर लगता नहीं आज कहे पाउँगा, यादें जो दास्ताँ बन गयी है, इजहार करके मेरे नसीब को आजमाऊँगा.|हैप्पी रोज डे ।
मेरी दीवानगी की कोई हद नहीं ,तेरी सूरत के सिवा मुझे कुछ याद नहीं ,मैं गुलाब हूँ तेरे गुलशन का ,तेरे सिवाए मुझपर किसी का हक्क नहीं।
मोहब्बत तो सिर्फ एक इत्तेफाक है, ये तो दो दिलों की मुलाकात है, मोहब्बत ये नहीं देखती कि दिन है या रात है, इसमें तो सिर्फ वफादारी और जज़्बात है – Happy Rose Day
“कहना तो पल दो पल का है, कुछ न कहने में अरसा लगता है !हैप्पी रोज डे ।
ये रोज डे रोज रोज आये,तू भी मुझे मिलने फिर यु रोज आये,लेकर गुलाब हाथों में मेरे नेनों से नेन मिलाये,और ये तेरा दीवाना तेरी झील सी आँखों में डूब जाये।
प्यार के समंदर में डूबना चाहते है,प्यार में कुछ खोते है तो कुछ पाते हैप्यार तो एक गुलाब है जिसे सब तोड़ना चाहते हैहम तो इस गुलाब को चूमना चाहते है,
“जीते हैं तेरा नाम लेकर, मरने के बाद क्या अंजाम होगा, कफ़न उठा के देख लेना मेरा, होठों पे तेरा ही नाम होगा !हैप्पी रोज डे ।
“हर पक्षी, नृत्य नहीं कर सकते, लेकिन मोर यह कर सकता हे, हर फूल से प्यार का इझहार नहीं कर सकते लेकिन गुलाब से होता हे|हैप्पी रोज डे ।

Rose day lines hindi

1 2 3 4 5 6 7Next page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button